``` 6 लाख में बनी फिल्म, छापे 800 करोड़, सिनेमा के इतिहास में कमाया सबसे ज्यादा प्रॉफिट, फिर मेकर्स ने बनाए 7 सीक्वल - टाइम्स ऑफ़ हिंदी
आपका स्वागत है! टाइम्स ऑफ़ हिंदी पर रंग-बिरंगी ख़बरों की दुनिया में!

6 लाख में बनी फिल्म, छापे 800 करोड़, सिनेमा के इतिहास में कमाया सबसे ज्यादा प्रॉफिट, फिर मेकर्स ने बनाए 7 सीक्वल

मुंबई. पिछले कुछ बरसों में, ऐसी कई कम बजट वाली फिल्में आई हैं जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर उम्मीद से बढ़कर सफलता हासिल कीं. भारत और विदेशों दोनों में, कई छोटे बजट की फिल्में ब्लॉकबस्टर बन गई हैं, जो बड़े बजट और स्टार्स वाली फिल्मों को समय-समय पर टक्कर देती आ रही हैं. ‘द केरल स्टोरी’, ‘द कश्मीर फाइल्स’ और ‘गैंग ऑफ वासेपुर’ समेत कई ऐसी फिल्में रही हैं. लेकिन साल 2007 में एक हॉलीवुड फिल्म ने अपने बजट से हैरान जनक प्रॉफिट कमाया. फिल्म ने अपने बजट से सैंकड़ों गुना ज्यादा कलेक्शन किया.

साल 2007 में रिलीज हुई इस फिल्म का नाम ‘पैरानॉर्मल एक्टिविटी’ था. इसे ओरेन पेली ने प्रोड्यूस और डायरेक्ट किया था. उन्होंने ही इस फिल्म की कहानी को भी लिखा था. डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, पूरी फिल्म को हैंडहेल्ड कैमरे और सीसीटीवी कैमरे से शूट किया गया था. फिल्म के क्रू और 4 कलाकर की वजह से इसका बजट 15 सौ डॉलर यानी 6 लाख रुपए तक सीमित रहा.

‘बार्बी’ को बीच में छोड़ बेटी संग भागी जूही परमार, लैंग्वेज-सीन पर जताई आपत्ति, पेरेंट्स को दी सलाह

फिल्म बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हुई और दुनियाभर में 193 मिलियन डॉलर यानी 800 करोड़ रुपए का कलेक्शन कर लिया. फिल्म के बजट और कलेक्शन का काफी बड़ा अंतर था, जिसने सिनेमा के इतिहास में बजट-कलेक्शन का अनुपात सबसे ज्यादा रहा. फिल्म की सक्सेस ने मेकर्स को इसके सीक्वल बनाने का आइडिया दिया.

230 करोड़ में बने 7 सीक्वल वाली ‘पैरानॉर्मल एक्टिविटी’

इसके बाद, ओरेन पेली ने ‘पैरानॉर्मल एक्टिविटी’ के 6 सीक्वल्स और स्पिनऑफ बनाए. ‘पैरानॉर्मल एक्टिविटी’ फ्रैंचाइजी की 7 फिल्मों ने दुनिया भर में कुल कमाई 890 मिलियन डॉलर यानी 7320 करोड़ रुपये कमाए, जबकि इनका बजट सिर्फ 28 मिलियन डॉलर यानी 230 करोड़ रुपये ही रहा. दुनिया में किसी भी फ्रैंचाइजी की सक्सेस का रेशियो इतना बड़ा नहीं है.

‘पैरानॉर्मल एक्टिविटी’ की सात फिल्में

‘पैरानॉर्मल एक्टिविटी’ का पहला पार्ट साल 2007 में आया. इसकी दूसरी फिल्म साल 2010 में, तीसरी 2011, चौथी 2012, पांचवीं 2014, छठी 2015 और 7वीं साल 2021 में आई. हॉरर कैटेगरी की फिल्म में यह दुनिया में सबसे ज्यादा देखे जाने वाली फिल्मों में से एक रही है.

Share this article
Shareable URL
Prev Post

हार्वर्ड के वैज्ञानिकों का दावा- ढूंढ लिया है ‘बुढ़ापे को जवानी में बदलने’ का रासायनिक मिश्रण

Next Post

होटल में ठहरते हैं, तो चेक कर लें टीवी और सॉकेट! एक्सपर्ट ने बताया कहां हो सकता है धोखा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read next

वेडिंग सीजन में महिलाओं को लुभा रहे चांदी से बने हैंडबैग्स, नई-नवेली दुल्हन की बना पहली पसंद

निशा राठौड़/उदयपुर. बदलते दौर के साथ-साथ कई चीजे न्यू ट्रेंड में आती जा रही है. शादियों का सीजन चल रहा है ऐसे में…

राजस्थान में कैंसर के खिलाफ जंग, गांव-देहात तक पहुंच रही जांच करने वाली बस

अंकित राजपूत/जयपुर. कैंसर ऐसी घातक बीमारी है, जिसका अगर समय से पता न चले तो यह जान ले लेती हैं. समय पर कैंसर का…

छात्राओं के लिए अच्छी खबर. गार्गी पुरस्कार की बढ़ी डेट, अब इस दिन तक कर…

रवि पायक/भीलवाड़ा. भीलवाड़ा जिले की रहने वाली स्कूली छात्राएं जिन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन…