``` गहलोत कैबिनेट ने 19 नए जिलों के प्रस्‍ताव पर लगाई मुहर, 3 नए संभाग को हरी झंडी - टाइम्स ऑफ़ हिंदी
आपका स्वागत है! टाइम्स ऑफ़ हिंदी पर रंग-बिरंगी ख़बरों की दुनिया में!

गहलोत कैबिनेट ने 19 नए जिलों के प्रस्‍ताव पर लगाई मुहर, 3 नए संभाग को हरी झंडी

जयपुर. राजस्थान में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस और भाजपा जोरशोर से तैयारियों में जुटी है. इन सबके बीच शुक्रवार को अशोक गहलोत कैबिनेट की अहम बैठक हुई, जिसमें कई अहम प्रस्‍तावों पर मुहर लगाई गई. मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत की कैब‍िनेट ने 19 नए जिले सृजित करने के प्रस्‍ताव पर अपनी मुहर लगा दी है. इसके अलावा 3 नए संभाग बनाए जाने के प्रपोजल को भी स्‍वीकार कर लिया गया है. इस तरह राजस्‍थान में अब कुल 50 जिले हो गए हैं. राजस्‍थान में लंबे अरसे से नए जिले बनाने की मांग की जा रही थी. गहलोत सरकार ने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उनकी मांगों को पूरा कर बड़ा दाव चला है.

गहलोत मंत्रिमंडल के फैसले के बाद अब राजस्‍थान में कुल 50 जिले हो जाएंगे. नवगठित जिलों में अनूपगढ़, बालोतरा, ब्‍यावर, डीग, डीडवाना, दूदू, गंगापुर सिटी, जयपुर शहर, जयपुर ग्रामीण, जोधपुर शहर, जोधपुर ग्रामीण, केकडी, कोटपूतली, खैरथल, नीमकाथाना, फलौदी, सलूम्‍बर, सांचौर और शाहपुरा शामिल हैं. बता दें कि जयपुर शहर और जयपुर ग्रामीण को अलग जिला बनाने की मांग लंबे समय से चली आ रही थी. हालांकि, एक वर्ग इसके खिलाफ भी था. इसके अलावा सांचौर को जिला बनाने के लिए लगातार लामबंदी चल रही थी. मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने नए जिले बनाने की मांग को पूरा कर नया राजनीतिक मास्‍टरस्‍ट्रोक खेला है.

राजस्‍थान: नए जिलों के गठन पर लगी मुहर, जल्द जारी होगा नोटिफिकेशन, पढ़ें गहलोत कैबिनेट के बड़े फैसले

राजस्‍थान में अब कुल 50 जिले
राजस्‍थान कैबिनेट के निर्णय के बाद प्रदेश में अब कुल 50 जिले हो गए हैं. कैब‍िनेट बैठक के बाद मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने फैसलों के बारे में जानकारी दी. उनके साथ मंत्री शांति धारीवाल, महेश जोशी, प्रताप सिंह खाचरियावास, बीडी कल्‍ला, हेमाराम चौधरी, गोविंद राम मेघवाल, शकुंतला रावत, सुखराम विश्‍नोई, लालचंद कटारिया, जाहिदा खान, ब्रजेंद्र ओला, रामलाल जाट, रमेश मीणा समेत अन्‍य कैबिनेट सहयोगी मौजूद थे. राजस्‍व सचिव अपर्णा अरोड़ा ने बताया कि 19 नए जिलों के गठन के बाद राजस्‍थान में कुल 50 जिले हो गए हैं.

‘राजस्‍थान के लिए बड़ा दिन’
बता दें कि कैबिनेट की बैठक में नए जिलों के गठन को लेकर कमेटी की रिपोर्ट रखी गई थी. गहलोत मंत्रिमंडल ने रिपोर्ट का अनुमोदन करते हुए अपनी स्‍वीकृति दे दी. नए‍ जिलों के साथ ही 3 नए संभाग बनाने के फैसले को भी हरी झंडी दे दी गई है. बांसवाड़ा, पाली और सीकर अब नए संभाग बन गए हैं. कैबिनेट सेक्रट्री उषा शर्मा ने बताया कि आज का दिन राजस्‍थान के लिए बड़ा दिन है. 19 नए‍ जिलों का नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है. नए जिले बनने से आमलोगों को लाभ होगा. कामकाज में प्रशासन को भी सहूलियत होगी.

टाइम्स ऑफ़ हिंदी रचनाकार का दृष्‍टिकोण: राजस्थान में गहलोत सरकार के फैसले के बाद अब कुल 50 जिले हो गए हैं और 3 नए संभाग भी बन गए हैं। इससे राजस्‍थान के प्रशासन में सुविधाओं और विकास की गति बढ़ेगी। इस नए मौके को राजस्थान का बड़ा दिन कहा जा सकता है।

Share this article
Shareable URL
Prev Post

गर्मी से धधक रहा दक्षिण कोरिया! स्काउट जंबूरी कार्यक्रम में सैकड़ों बच्चे बीमार

Next Post

फ्रेंडशिप डे को बनाना है स्‍पेशल? दोस्‍तों के साथ इन 5 जगहों पर जाएं, ट्रिप बनेगा यादगार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read next

Leo से संजय दत्त का लुक आउट, विलेन बन करेंगे थलापति संग फाइट, इन 2 मूवी में भी नेगेटिव रोल में होंगे संजू बाबा

मुंबई. संजय दत्त लियो लुक : संजय दत्त ने ‘केजीएफ: चैप्टर २’ में विलेन का किरदार निभाकर क्रिटिक्स और फैंस को…

राजस्थान: 10वीं की छात्र से गैंगरेप, आहत पीड़िता ने किया सुसाइड का प्रयास

हाइलाइट्स डूंगरपुर के दोवड़ा थाना इलाके में हुई वारदात छात्रा के अपहरण के बाद तीन युवकों ने किया गैंगरेप…

राजस्थान: मां को टॉर्चर करता था पिता, गुस्साए 2 बेटों ने पकड़कर मार डाला, शव घर से बाहर फेंका

हाइलाइट्स जयपुर आरएसी जवान मर्डर केस का खुलासा जयसिंहपुरा खोर इलाके में दो दिन पहले मिला था शव पुलिस ने…

बेटी हुई तो कंबल में लपेटकर झाड़ियों में फेंका, गोद लेने वालों की लगी भीड़

हाइलाइट्स अलवर के रामगढ़ इलाके में मिली नवजात मासूम के परिजनों का अभी तक नहीं लगा कोई सुराग पीड़ित बच्ची को…