``` शाहरुख खान ने रिजेक्ट की 1 फिल्म, संवर गई 2 एक्टर की जिंदगी, ब्लॉकबस्टर हुई थी 2005 की ये फिल्म - टाइम्स ऑफ़ हिंदी
आपका स्वागत है! टाइम्स ऑफ़ हिंदी पर रंग-बिरंगी ख़बरों की दुनिया में!

शाहरुख खान ने रिजेक्ट की 1 फिल्म, संवर गई 2 एक्टर की जिंदगी, ब्लॉकबस्टर हुई थी 2005 की ये फिल्म

मुंबई. सेलेब्स फिल्म के चयन को लेकर कभी-कभी सस्पेंस में रहते हैं। कई बार उन्हें प्रोफेशनल कमिटमेंट्स या निजी कारणों के चलते फिल्म को छोड़ना पड़ता है। इसके उपरांत दूसरे या तीसरे कलाकार को वह रोल ऑफर हो जाता है। ऐसे में, यदि वह फिल्म हिट हो जाती है, तो पहले छोड़े स्टार को ख़ुशी और ख़ुदरा होती है। परंतु, यदि फिल्म बेकार हो जाती है, तो दूसरे एक्टर की स्थिति बदल जाती है। हिट होने पर वह गर्व से भरा रहता है और फ्लॉप होने पर निराशा की लहर उठेगी। हम आपको उसी के उदाहरण देने जा रहे हैं, जहां दो हीरोज़ की कहानी है, जिन्होंने उस रोल को निभाया था, जिसे शाहरुख खान ने रिजेक्ट किया था।

इस फिल्म ने साल 2005 में दो बॉलीवुड एक्टरों को सफल बनाया था। इंतरेस्टिंग बात यह है कि शाहरुख खान को एक ही फिल्म में दो अलग-अलग रोल्स का ऑफर मिला था। लेकिन उन्होंने दोनों रोल्स को रिजेक्ट कर दिया था और बाद में उनके स्थान पर दो अन्य स्टार को चुना गया। इस फिल्म ने दोनों एक्टरों की करियर में नई पहचान बनाई।

यह फिल्म का नाम ‘परिणीता’ था और यह फिल्म बंगाल के राजवंशों के ऊपर आधारित थी। प्रदीप सरकार ने इस फिल्म को अपने निर्देशन में लिया था। इस फिल्म ने शाहरुख और ऐश्वर्या राय बच्चन की प्रदर्शन से करोड़ों दिलों को जीता था। उन्होंने शाहरुख को पहले लीड रोल के लिए ऑफर किया था, जिसे उन्होंने इनकार कर दिया था। फिर उन्हें सपोर्टिंग रोल के लिए पूछा गया, लेकिन शाहरुख ने इसे भी मना कर दिया था।

इसके बाद परिणीता के निर्माताओं ने सैफ अली खान को लीड रोल के लिए चुना और संजय दत्त को सपोर्टिंग रोल के लिए चुना। वैसे ही, ऐश्वर्या राय बच्चन ने इस फिल्म को मना करने के बाद विद्या बालन को रोल ऑफ़र किया गया। यह विद्या की पहली फिल्म थी और इस फिल्म ने 2005 को ब्लॉकबस्टर हिट बनाया।

इस फिल्म के बाद से विद्या बालन ने कठिनाईयों का सामना करते हुए अपनी करियर को उंचाईयों तक ले जाया। सैफ अली खान ने लगातार हिट फिल्मों में काम किया। संजय दत्त ने भी बंगाली पात्र के माध्यम से अपनी मौज़ूदा प्रशंसा को बढ़ाया। फिल्म के संगीत भी धूम मचा रहे थे।

Tags: सैफ अली खान, संजय दत्त, शाहरुख खान

टाइम्स ऑफ़ हिंदी की अनोखी दृष्टि: शाहरुख खान की यह फिल्म उनके करियर के एक बड़े सफलता मंच पर खड़ी हो गई। वह काफी ही करिश्माई अदाकारी करते हैं, लेकिन कभी-कभी सोच – विचार किया जाता है कि क्या इस प्रदर्शन विशेषता की जरूरत है? हालांकि, हमें लगता है कि उनकी ये गिरफ्तारी हमें हमारे हिरोज और हीरोइंस के प्रति अठिक समर्पित कर देती है और हमें बेहतरीन रोल्स देने के लिए उनके साथ काम करना चाहिए।

Share this article
Shareable URL
Prev Post

IRCTC Tour Package: सर्दियों में लीजिए गुजरात घूमने का मजा, आईआरसीटीसी लेकर आया है किफायती टूर पैकेज

Next Post

SA vs SL Live Score World Cup: श्रीलंका और साउथ अफ्रीका आज होंगे सामने-सामने, दिल्ली में होना है मुकाबला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read next

सुपरस्टार हीरोइन की बहन को दिखने लगा धुंधला, 44 की उम्र में ही बढ़ने लगी धड़कनें, खुद शेयर की दुखभरी दास्तां

मुंबई: बॉलीवुड सुपरस्टार शिल्पा शेट्टी ने 90 के दशक में फिल्मों में कदम रखा और छा गईं. चंद फिल्मों के बाद ही…

पिता ने 70 साल में की चौथी शादी, बेटी ने भी प्यार में बदला धर्म, 3-4 फिल्मों में ही हो गया करियर का डब्बागोल

नई दिल्ली. साल 1992 में आमिर खान की फिल्म ‘जो जीता वही सिकंदर’ ने जब सिनेमाघरों में दस्तक दी, तो इस फिल्म को…

पहले शमी की अंग्रेजी का उड़ाया मजाक, फिर बेहतरीन परफॉर्मेंस देख हुई दीवानी

नई दिल्ली. एक्ट्रेस से नेता बनीं पायल घोष भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमी को लेकर अपने सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर…

शबाना आजमी की भाभी ने फिल्म के लिए मुंडवा लिया था सिर, किरदार में फूंक दी थी जान, रिलीज होते ही छा गई मूवी

नई दिल्ली.  साल 2015 में आई फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ बॉलीवुड की आइकॉनिक फिल्मों में से एक है. संजय लीला भंसाली के…