``` यहां पेड़ पर नहीं दुकान में तैयार होते हैं सेव, बंगाल के कारीगर करते हैं तैयार - टाइम्स ऑफ़ हिंदी
आपका स्वागत है! टाइम्स ऑफ़ हिंदी पर रंग-बिरंगी ख़बरों की दुनिया में!

यहां पेड़ पर नहीं दुकान में तैयार होते हैं सेव, बंगाल के कारीगर करते हैं तैयार

धीरज कुमार/किशनगंज. आपने एप्पल पेड़ पर फलते देखा होगा, पर यहां दुकान में बनता है. जिसे बच्चे खूब पसंद करते हैं. बिहार के किशनगंज के फल चौक स्थित गिरधारी स्वीट्स में एप्पल मिठाई जो कि सेब की आकार में तैयार की जाती है. प्योर खोवा से बनी एप्पल मिठाई जिसे बच्चे देखते ही टूट पड़ते हैं. गिरधारी स्वीट्स के संचालक विशाल गुप्ता बताते हैं कि हमारे यहां 100 से ज्यादा प्रकार की मिठाइयां है, लेकिन बच्चे जितने एप्पल मिठाई को पसंद करते हैं, उतना किसी भी मिठाई को नहीं. एप्पल मिठाई दिखने में एकदम एप्पल यानी सेब की तरह ही होती है. इसे बंगाल की खास कारीगरों के द्वारा तैयार की जाती है.

किशनगंज में सैकड़ों मिठाई की दुकाने हैं और उस दुकान में सैकड़ों से ज्यादा मिठाइयों की वैरायटी है, लेकिन खोया से बनी एप्पल मिठाई को बच्चे देखते ही टूट पड़ते हैं. एप्पल की साइज यानी सेब की तरह दिखने वाली है. एप्पल मिठाई बच्चों की पहली पसंद बन चुकी है जो कि किशनगंज में गिरधारी स्वीट्स में बनाई जाती है. गिरधारी स्वीट्स के संचालक विशाल गुप्ता की माने तो 50 किलो आसानी से प्रतिदिन बिक जाती है. वहीं, रेट की बात करें तो ₹500 किलो बिकती है. यह मिठाई ₹12 प्रति पीस के हिसाब से मिलती है.

ऐसे हुई शुरूवात, बच्चों की है पसंद
विशाल गुप्ता ने बताया कि हमारे यहां सैकड़ों से ज्यादा वैरायटी की मिठाई है. यह मिठाई विगत 1 साल से हम बना रहे हैं. बंगाल के एक कारीगर ने हमें इस मिठाई के बारे में बताया था, तो हमने ट्राई किया. तो धीरे-धीरे देखा कि बच्चे इसे काफी पसंद कर रहे हैं. फिर इसे बनाना शुरू किया. आज किशनगंज की हर बच्चों की जुबान पर एप्पल मिठाई का नाम आता है. दुकान पर आने वाले हर बच्चे इस मिठाई को देखकर काफी आकर्षित होते हैं. वह अपने माता-पिता से जिद कर यह मिठाई खरीद कर खाते हैं और घर भी ले जाते हैं

Tags: बिहार समाचार, खाद्य, खाद्य 18, किशनगंज, Local18

Share this article
Shareable URL
Prev Post

कहीं आपके नाम से कोई अपराधी तो नहीं चला रहा सिम कार्ड? 1 मिनट से भी कम में ऐसे करें पता

Next Post

कल होगा मिठास मेले का आयोजन, किसानों को दी जाएगी गन्ने की नई किस्म की मिनी सीड किट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read next

सब्जियों से बनी अनोखी चाट का गजब है स्वाद,खुशबू से ही उमड़ जाती हैं भीड़

सत्यम कटियार/फर्रुखाबाद: फर्रुखाबाद में खूबियां होती हैं जिसके लिए यहां पहचाना जाता है. फर्रुखाबाद के चौराहों पर…

क्या आप भी हैं सूप के शैकीन? तो पहुंचे यहां, वेज-नॉनवेज की कई वैरायटी है उपलब्ध, स्वाद दे दीवाने हैं लोग

मनिष कुमार/कटिहार. गर्मी हो या सर्दी या फिर बरसात… सूप पीने का अलग ही मजा है. ऐसे में अगर कई वैरायटी एक जगह मिल…