``` बेटी हुई तो कंबल में लपेटकर झाड़ियों में फेंका, गोद लेने वालों की लगी भीड़ - टाइम्स ऑफ़ हिंदी
आपका स्वागत है! टाइम्स ऑफ़ हिंदी पर रंग-बिरंगी ख़बरों की दुनिया में!

बेटी हुई तो कंबल में लपेटकर झाड़ियों में फेंका, गोद लेने वालों की लगी भीड़

हाइलाइट्स

अलवर के रामगढ़ इलाके में मिली नवजात
मासूम के परिजनों का अभी तक नहीं लगा कोई सुराग
पीड़ित बच्ची को रामगढ़ अस्पताल में कराया गया है भर्ती

अलवर. विजयदशमी पर राजस्थान से दिल को दहला देने वाली खबर सामने आई है. सूबे के अलवर जिले के रामगढ़ थाना इलाके में एक नवजात मासूम को कंबल में लपेटकर झाड़ियों में फेंक दिया गया. मासूम का स्थानीय अस्पताल में इलाज कराया जा रहा है. फिलहाल उसकी हालत ठीक बताई जा रही है. उसके पूरी तरह से स्वस्थ हो जाने के बाद उसे अलवर नवजात शिशु गृह में दाखिला कराया जाएगा. पुलिस नवजात के परिजनों का पता लगाने का प्रयास कर रही है.

पुलिस के अनुसार मासूम नवजात रामगढ़ थाना इलाके के बेरेबास गांव के के पास मिली. यहां पर 2 दिन की नवजात बालिका एक खेत में झाड़ियों के पास कंबल में लिपटी हुई मिली है. मासूम बच्ची को पड़े देखकर वहां ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई. उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी. इस पर थानाधिकारी राजपाल चौधरी पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे. वहां नवजात बालिका के पहचान के प्रयास किए गए लेकिन उसके परिजनों का कोई पता नहीं चल पाया.

दो दिन की बताई जा रही है नवजात बालिका
उसके बाद पुलिस बालिका को लेकर रामगढ़ हॉस्पिटल पहुंची. हॉस्पिटल में ड्यूटी पर तैनात विश्वेंद्र गुर्जर और चिकित्सा अधिकारी हसन अली ने उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया तो वह स्वस्थ अवस्था में मिली. अस्पताल स्टाफ ने नवजात बेटी को दूध पिलाया. चिकित्सा अधिकारी हसन अली का कहना है कि बालिका करीबन 2 दिन की है. वह स्वस्थ्य है. उसे दूध पिलाया गया है. मां के अभाव में बालिका लगातार रो रही है.

गनीमत है कि कुत्तों ने उस पर हमला नहीं किया
ग्रामीणों के मुताबिक गनीमत रही कि बच्ची आवारा कुत्तों का निवाला नहीं बनी और समय रहते पता चल जाने से वह बच गई. पुलिस का कहना है कि पूरी तरह से ठीक होने के बाद बालिका को अलवर स्थित नवजात शिशु गृह में दाखिला कराया जाएगा. उसके परिजनों की तलाश की जा रही है. लेकिन उनका अभी तक सुराग नहीं लग पाया है. मामले की सूचना मिलने के बाद इस बेटी को अपनाने के लिए कई लोग अस्पताल पहुंचे. उन्होंने पुलिस से भी बच्ची को उनके सौंपने की गुहार लगाई है.

Tags: Alwar News, Crime News, Daughter, Rajasthan news

[टाइम्स ऑफ़ हिंदी]

Share this article
Shareable URL
Prev Post

अब बिना वीजा घूम सकेंगे श्रीलंका, इन 6 देशों के लिए फ्री-Visa स्कीम का ऐलान

Next Post

बिना चार्जर के भी चार्ज कर सकते हैं फोन, आजमा लें ये 3 तरीके, कोई नहीं बताएगा आपको ये धांसू आइडिया!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read next

सनी देओल की ‘गदर 2’ में सेंसर बोर्ड ने किए बड़े बदलाव, 10 कट के बाद मिला UA सर्टिफिकेट, फिल्म से हटेंगे ये सीन

नई दिल्ली. सनी देओल (Sunny Deol) की मच अवेटेड फिल्म ‘गदर 2’ के रिलीज से पहले सेंसर बोर्ड ने फिल्म के 10 डायलॉग…

भूल जाएंगे दाल मखनी और पनीर, तंदुरी रोटी के साथ इस सब्जी का लोग ले रहे मजा, 74 साल पुरानी है दुकान

अंकित राजपूत/रिपोर्टर जयपुर. आजादी के समय हजारों लोग भारत से पाकिस्तान गए और पाकिस्तान से भारत आए और उन्ही के…

चंद्रमा को अर्घ देने के लिए विशेष रूप से बनाए जाते हैं ये करवे, बाजार में मांग

मनीष पुरी/भरतपुर. हमारी परंपराओं में जिस रिश्ते को सात जन्मों तक निभाने के वचन एक दूसरे को दिए जाते हैं. वह…

राजस्थान: मां को टॉर्चर करता था पिता, गुस्साए 2 बेटों ने पकड़कर मार डाला, शव घर से बाहर फेंका

हाइलाइट्स जयपुर आरएसी जवान मर्डर केस का खुलासा जयसिंहपुरा खोर इलाके में दो दिन पहले मिला था शव पुलिस ने…